क्या नोट्स बनाने की आदत से आप सच में लक्ष्य पा सकते हैं?


बचपन से ही आपके स्कूल, कॉलेज में टीचर्स ने आपको बनाने की आदत डालवाई होगी। यहां तक कि बड़े होने के बाद भी आप ऑफिस मीटिंग व किसी अन्य जरूरी चीजों को सीखने जाने पर नोट्स बनाते ही होंगे। क्या आपने कभी सोचा है कि नोट्स बनाना क्यों जरूरी होता है? और यह कैसे आपको अपने लक्ष्य तक पहुंच सकता है?
आइए, आपको बताते हैं नोट्स बनाना जीवन में किस प्रकार फायदमंद होता है:

1. पूरे दिन में आपके दिमाग में लाखों विचार आते हैं जिनमें से ज्यादातर विचार व्यर्थ होते हैं। आपको दिनभर में जो भी जरूरी काम करने हों, उन्हें एक में लिख देने से आपका माइंड व्यवस्थित हो जाता है।

2. नोट्स बनाने के बाद किस काम को आपको पहले करना है व आप किसे बाद में भी कर सकते हैं, जैसी प्राथमिकताएं तय हो जाती हैं। अब बार-बार सोचने में आपका समय खराब नहीं होगा और न ही माइंड को कोई दुविधा ही होगी।
3. जब आपके पास सारे जरूरी कामों को लिस्ट तैयार होगी, तब ऐसे में किसी काम को आप करना भूल जाएं, इसकी गुंजाइश न के बराबर हो जाएगी।

4. जैसे-जैसे नोट्स में लिखे आपके काम होते खत्म होते जाएंगे, वैसे-वैसे आपको आकलन करना आसान हो जाएगा कि कितने समय में आपने कौन सा काम किया और अब कितना और समय आपके पास बचे हुए कामों को करने के लिए है। जैसे-जैसे आपके बचे हुए कामों की लिस्ट छोटी होती जाएगी, वैसे-वैसे आपको राहत महसूस होगी।
5. नोट्स बनाने से तनाव व चिंता बहुत कम हो जाती है। कोई बात भूलने पर आप दुबारा भी नोट्स में उन्हें देख सकते हैं।

6. हर दिन नोट्स बनाने की आदत से आपका कोई भी दिन जाया नहीं जाता। आप टाइम मैनेजमेंट करना सीख जाते हैं।


और भी पढ़ें :