टाइगर जिंदा है और रेस 3 में एक्शन काफी अलग है : सलमान खान

सुपरस्टार 'टाइगर ज़िंदा है' में फिर एक बार अपने एक्शन का जलवा बिखेरने वाले हैं। यह थ्रिलर अब तक का सबसे शानदार एक्शन होने का दावा करती है। यह फिल्म नर्सों के अपहरण की असली घटना पर आधारित है।



इसमें हाई ऑक्टेन एक्शन के लिए सलमान और कैटरीना काफी ट्रेनिंग से गुज़रे हैं। सलमान भी फिल्म में वो एक्शन सीक्वेंस दिखाने वाले हैं, जो आज तक देखा नहीं गया। यह पहली बार नहीं था कि सलमान ने किसी एक्शन सीक्वेंस के लिए इतनी कठोर ट्रेनिंग ली।
पिछले साल अली अब्बास के ही निर्देशन में बनी फिल्म सुल्तान में भी सलमान ने जबर्दस्त ट्रेनिंग ली थी। सलमान ने फिल्म में एक पहलवान की भूमिका निभाई थी, जिसके लिए कड़ी ट्रेनिंग की ज़रूरत थी। इसके लिए उन्हें फिटनेस और फिज़िक को लेकर भी काफी मेहनत करनी पड़ी। टाइगर ज़िंदा है में जितना एक्शन लेवल बढ़ा है, उतना ही ट्रेनिंग लेवल भी बढ़ा। सलमान अब अगली एक्शन-थ्रिलर फिल्म 'रेस 3' भी कर रहे हैं, जिसमें यह अलग होगा।


इस बारे में खुद सलमान ने स्वीकार किया है कि सुल्तान और टाइगर ज़िंदा है में उनके ट्रेनिंग और फिज़िकल फिटनेस लेवल बहुत अलग थे। अब फिल्म में भी उन्हें एक्शन सीन के लिए काफी काम करना है।

सलमान ने दोनों फिल्मों में अपनी फिज़िकल ट्रेनिंग के बारे में बताया कि दोनों फिल्मों में ट्रेनिंग पूरी तरह से अलग थी। टाइगर ज़िंदा है में एक्शन सुल्तान से काफी अलग था। अब रेस 3 में एक्शन टाइगर ज़िंदा है से काफी अलग होगा। भले ही यह एक जैसी हो, लेकिन आपको हमेशा फिल्म की ज़रूरत के हिसाब से शेप में बने रहना पड़ता है।

सलमान ने बताया कि जब आप वर्कआउट करते हैं, आप स्ट्रेच करते हैं। आप कुश्ती, एमएमए, वेट ट्रेनिंग जैसी नई चीज़ें सीखते हैं। थोड़ा एक्शन ठीक होता है। लेकिन जब आप 6-8 घंटे की शूटिंग कर रहे होते हैं, तो आप या तो कूद रहे होते हैं या भाग रहे होते हैं। पूरे दिन में आप 10-12 घंटे शूट करते हैं वो भी लगातार।

टाइगर जिंदा है में सलमान खान और पांच साल बाद दोबारा साथ नज़र आने वाले हैं। द्वारा निर्देशित यह फिल्म 22 दिसंबर को रिलीज हो रही है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :