गोलमाल अगेन के बारे में तब्बू की गोलमाल बातें

'गोलमाल' की खासियत?
मेरा कॉमिक रोल नहीं है, वो सीरियस और शांत है।

कैसा रहा शूट?
मेरे लिए एक ब्रेक के जैसा था, जो काफी अलग माहौल था। बाकी लोग हंसाते हुए नजर आएंगे। माहौल ऐसा है कि आप खुद हंसने लगते हैं।

'गोलमाल' करते वक्त मजा आया?
मुझे बहुत मजा आया। वक्त के हिसाब से ही फिल्मों का चयन करती हूं।

बाकी कलाकारों के साथ?
इन सभी एक्टर्स को मैं कई सालों से जानती हूं। मैं पहले दिन से ही इन सभी के साथ कम्फर्टेबल थी। बहुत फन था।


अजय देवगन के साथ काम करना कैसा रहा?
अजय देवगन की कॉमिक टाइमिंग बहुत अच्छी है, सीधे चेहरे से बहुत-सी बातें कह जाते हैं।

आपकी पसंदीदा कॉमेडी फिल्में?
पुरानी वाली 'गोलमाल', 'अंगूर', 'जाने भी दो यारों', 'चुपके-चुपके' जैसी फिल्में।

फिल्मों का चयन कैसे करती हैं?
मैं हमेशा कुछ नया करना चाहती हूं, जहां किरदार को करने के लिए ज्यादा मेहनत करनी पड़े। जो फिल्में मैं पहले करती थीं, अभी वो ट्रेंड बन गया है। मैं सिनेमा को सब्जेक्ट की तरह नहीं देखती। अपने किरदार को छोड़कर मुझे फिल्म में और किसी चीज में इंट्रेस्ट नहीं होता।

बायोपिक का दौर है?
मैं सिर्फ करने के लिए बायोपिक नहीं करूंगी। ट्रेंड वाली चीजों से मैं दूर भागती हूं। कोई ऐसा किरदार जो मुझे प्रेरित करेगा, तो मैं करूंगी।

एक और फिल्म इसके बाद अजय देवगन के साथ करने वाली हैं?
हां, वो अलग फिल्म है, उसके बारे में बाद में बात करूंगी।

आप लिखती भी रहती हैं?
हां अक्सर लिखती हूं, उसे पब्लिश करने का कभी नहीं सोचा।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :