Widgets Magazine Widgets Magazine
Widgets Magazine
Widgets Magazine

गांव से लेकर तो न्यूयॉर्क तक पसंद की जाएगी 'काबिल'

समय ताम्रकर|
भले ही 'काबिल' से निर्माता के रूप में जुड़े हैं, लेकिन पूरी फिल्म पर उनकी पैनी नजर रही है। निर्देशक संजय गुप्ता को भले ही उन्होंने फिल्म बनाने की पूरी छूट दी हो, लेकिन यह बता दिया कि वे किस तरह की फिल्म चाहते हैं। जिस तरह से फिल्म बनी है उससे वे पूरी तरह संतुष्ट भी हैं। पेश है राकेश रोशन से बातचीत के मुख्य अंश : 
 
के बारे में क्या कहना चाहेंगे? 
पूरी ईमानदारी और जुनून के साथ हमने 'काबिल' को बनाया है। हम जैसी फिल्म बनाना चाहते थे, वैसी बनाने में हम कामयाब रहे हैं। मुझे पूरी उम्मीद है कि यह फिल्म पसंद की जाएगी। 


 
इन दिनों खास दर्शकों को टारगेट कर फिल्म बनाने का चलन है। क्या आपने भी किसी खास किस्म के दर्शकों को सोच कर फिल्म बनाई है?
हमने सभी के लिए फिल्म बनाई है। इस फिल्म के गाने अच्छे हैं। रितिक, यामी, रोहित और रोनित रॉय का बेहतरीन अभिनय है। एक सशक्त कहानी है। संजय गुप्ता का प्रस्तुतिकरण लाजवाब है। यह फिल्म मनोरंजन से भरपूर है। छोटे से गांव से लेकर तो न्यूयॉर्क तक यह फिल्म पसंद की जाएगी। 
 
फिल्म का ट्रेलर बताता है कि यह एक रिवेंज ड्रामा है। कई फिल्म इस विषय पर बन चुकी है। 'काबिल' में अलग क्या है?
मैं कहना चाहूंगा कि ऐसा रिवेंज ड्रामा आपने पहले कभी हिंदी फिल्मों में नहीं देखा होगा। एक अंधा आदमी किस तरह से बदला लेता है यह इसका यूएसपी है। 
 
क्या फिल्म के जरिये संदेश भी देने की कोशिश की गई है? 
हमारा पहला लक्ष्य तो मनोरंजन है। संदेश भी है कि हर आदमी में काबिलियत होती है। 
निर्देशक संजय गुप्ता की पिछली ‍कुछ फिल्में बॉक्स ऑफिस पर खास नहीं रही? उन्हें अच्छा तकनीशियनमाना जाता है। आपको अच्छे प्रस्तुतिकरण के लिए जाना जाता है। क्या आप दोनों ने जोड़ी बनाकर काम किया? 
बिलकुल। इसमें दो राय नहीं है कि संजय गुप्ता बहुत अच्छे निर्देशक हैं। हम दोनों ने जोड़ी के रूप में बेहतरीन काम किया है। 
 
काबिल और रईस दोनों रिलीज हो रही हैं। क्या आप थिएटर्स के बंटवारे को लेकर खुश हैं?
बंटवारे से कुछ नहीं होता। फिल्म अच्‍छी हो तो जरूर चलेगी। हो सकता है कि दोनों ही फिल्में चल जाएं। 
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine
Widgets Magazine
Widgets Magazine Widgets Magazine
Widgets Magazine