Widgets Magazine

पूरी इंडस्ट्री में देखा है ऐसा परिवार : राकेश रोशन

रूना आशीष|
के परिवार की नई पीढ़ी अब रोशन परिवार की परंपरा को आगे बढ़ाने की तैयारी में जुट गई है। के दोनों बेटे इन दिनों गिटार की ट्रेनिंग ले रहे हैं। दोनों अपने-अपने तरीके से इसे बजाने में महारथ हासिल करने में जुटे हैं और रितिक इस काम में उनकी मदद कर रहे हैं।
 
रितिक कहते हैं कि संगीत की जो परंपरा हमारे घर की रही है, मेरे बच्चों (ऋदान और ऋहान) में भी आएगी और मुझे यकीन है कि वो एक दिन रोशन खानदान की परंपरा निभाते दिखेंगे। सिर्फ इतना ही नहीं, एक बार जब मैं 'कृष' की शूटिंग भी कर रहा था तो दोनों देखने के लिए आए थे। मैं एक बड़ी ऊंची बिल्डिंग पर था और नीचे कूदने वाला था। ये देखने के बाद दोनों बहुत देर तक चुप रहे कुछ नहीं बोले। 


 
मुझे ऐसा लगता है कि वे दोनों सोच रहे थे कि एक दिन उन्हें भी ऐसे किसी बिल्डिंग पर से छलांग लगानी होगी, जैसे कि उनके पापा लगा रहे हैं। शायद वे डर गए थे या फिर थोड़े दबाव में आ गए थे। मैं भी उन्हें दबाव लेने देता हूं। अच्छा है कि उन्हें चैलेंज लेने की आदत पड़ जाए। मैं उन्हें ईमानदार रहने की सीख देता हूं। वे भी वैसे ही बन भी रहे हैं।
 
राकेश रोशन से जब पूछा गया कि आपके और के म्यूजिक सेंस को तो देख लिया, रितिक  तो हीरो हैं, उन्होंने अपने दादाजी की किस खूबी को लिया है और लिया भी है या नहीं? तो राकेश कहते हैं कि जिस तरह का गाना मुझे पसंद है या राजेश को पसंद है, उसे भी वही पसंद आता है। वो भी मीनिंगफुल गाने पसंद करता है। रितिक हमारे लिए आज की आवाज है। हम दोनों भाई संगीत बना लेते हैं और जब रितिक सुनता है तो बता देता है कि इस गाने को आजकल का गाना कैसे बना दिया जाए। वो कहता है कि गाना आजकल की ट्यून में भी हो। तो वो अरेंजमेंट हम कर लेते हैं और गाना बन जाता है।
 
रितिक ने पारिवारिक मामला हो या पिटी हुई फिल्म हो, दोनों को देखा है। जाहिर है एक पिता को अपनी विफलता इतनी नहीं काटती जितनी कि अपने बेटे का दर्द उन्हें दुखी कर देता होगा, तो राकेश कहते हैं कि मैंने उससे ज्यादा विफलता देखी है। 'कहो ना प्यार है' के बाद रितिक  की 8 पिक्चरें नहीं चली थीं। मैंने रितिक को कहा कि तुम अच्छे एक्टर हो और अच्छे अभिनेता कभी फेल नहीं होते। आप फिर उठोगे और 'कोई मिल गया' के बाद हम बाउंस बैक कर गए ना।
 
तो कई बार बच्चे के साथ सही फेज ना चल रहा हो तो शायद हर एक की जिंदगी में ऐसे फेजेस आते हैं तो कैसे अपने बेटे को हिम्मत दें। इसमें कोई हिम्मत वाली बात नहीं है। हम साथ में हैं। रोशन परिवार एकसाथ है। हम फिल्म इंडस्ट्री के 4 स्तंभ हैं। है ना मेरा परिवार सबसे अनोखा परिवार...! संगीतकार है, निर्माता है, निर्देशक है और अभिनेता भी है घर में। पूरी इंडस्ट्री में देखा है ऐसा घर? 
 
एक पिता को कब मालूम पड़ा कि बेटे में कई खूबियां हैं। पूछने पर राकेश बताते हैं- 'रितिक  ने अपना करियर मेरे साथ शुरू किया। वो असिस्टेंट डायरेक्टर था। उसने 4 साल मेरे साथ काम किया। वो जानता है कि मैं किस तरह से काम करता हूं या किस लगन से काम करता हूं। वो मेरे विजन को जानता है। अब जैसे मैंने 'कहो ना प्यार है' के समय कहा कि आप एक बोट से जा रहे होंगे तो वो जान गया कि पापा किस तरह के बोट की बात कर रहे होंगे। तो मैं एथेंस से वो बोट लेकर आया।' 
 
कहते हैं कि नई पीढ़ी पुरानी पीढ़ी से एक कदम आगे होती है तो रितिक  के बारे में क्या कहेंगे? राकेश बताते हैं 'वो दस कदम आगे है मुझसे। मैं भी अपने आपको अपडेटेड रखता हूं। मैं भी एक्सरसाइजेस करता हूं। एक घंटा रोज। मैं हर समय फिल्म देखता हूं। ऑफिस में भी और घर पर भी। मेरी तो टीम भी सारी नई पीढ़ी की है। सब युवा ही हैं। आपको आज के बच्चों के साथ रहना होगा। आपको भी सीखना और सीखते रहना होगा।
 
इन दिनों रितिक  और राकेश रोशन की ये जोड़ी अपनी अगली फिल्म 'काबिल' के प्रमोशन में लगी हुई है। फिर पिता-पुत्र की जोड़ी 'कृष 4' पर भी काम करने वाली है।
Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine