ओनिर ने सुनाया उनके पहले वेलेंटाइन डे का किस्सा

कुछ भीगे अल्फाज़ के निर्देशक ने यूं तो ह्यूमन इमोशन्स को ले कर माय ब्रदर निखिल और बस एक पल जैसी फिल्म बनाई हैं, लेकिन इस बार 'कुछ भीगे अल्फाज़' के साथ वह एक लड़के और लड़की वाली हार्डकोर लव स्टोरी बना रहे हैं।

वेलेंटाइन्स डे को ले कर वेबदुनिया संवाददाता रूना आशीष को उन्होंने बताया कि कॉलेज के समय में मुझे एक लड़की बहुत पसंद थी। मैंने बहुत हिम्मत कर उसे इसी दिन अपने प्यार का इज़हार करने की ठानी। मैंने उसे सुबह 7 बजे कॉलेज बुलाया।

ओनिर बताते हैं, "मैं अगले दिन सुबह 7 बजे उठ कर पहुंचा भी, लेकिन कुछ ले जाना भूल गया। मेरे पास फूल भी नहीं थे और न ही मेरे पास कोई चॉकलेट या कुछ चीज़थी। अब बिना कुछ लिए जाना भी ठीक नहीं। आसपास नज़र दौड़ाई। कॉलेज के पास एक पान-सिगरेट की दुकान थी।

मैं वहीं पहुंचा, लेकिन चॉकलेट तो उसके पास भी नहीं थी। मैंने बहुत सारी चुइंग गम्स खरीदी ताकि प्रपोज़ करते समय मैं खाली हाथ ना दिखूं। जैसे ही मैं उससे मिला मैंने उसे वो सब दे दी।


आगे क्या हुआ। उसने वो सारी की सारी चुइंग गम्स मेरे मुंह पर दे मारी और बोली कि कोई चुइंग गम्स देता है? तो ये थी मेरी फर्स्ट वैलेंटाइंस डे का कहानी।

ओनिर की फिल्म कुछ भीगे अल्फाज़ 16 फरवरी को रिलीज़ हो रही है।

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :