छत्तीसगढ़ पुलिस क्यों तलाश रही है कबूतर?

पुनः संशोधित शुक्रवार, 6 अप्रैल 2018 (11:33 IST)
आलोक प्रकाश पुतुल (रायपुर से)

छत्तीसगढ़ के दुर्ग ज़िले की पुलिस कबूतरों की तलाश कर रही है। शहर के हर मुहल्ले में तलाशे जा रहे हैं। वो भी एक, दो नहीं, पूरे 120 कबूतर। पुलिस का कहना है कि वह 'विशेष रुचि' लेकर इन कबूतरों को तलाश रही है।
असल में ये कबूतर भी कोई आम कबूतर नहीं हैं। दावा है कि ये सभी 'चैंपियन' कबूतर हैं। असल में दुर्ग के कसारीडीह इलाके के रहने वाले रथिंद्र नाथ मायती कबूतरबाज़ी करते हैं। उनके पास सैकड़ों की संख्या में कबूतर हैं। अलग-अलग नस्ल के इन कबूतरों की कीमत लाखों रुपए बताई गई है।

रथिंद्र नाथ मायती ने बीबीसी को बताया, "मंगलवार को मेरे तीन मंज़िला मकान के ऊपरी हिस्से में रखे गये 120 कबूतर चोरी हो गए। कबूतरबाज़ी की अलग-अलग प्रतियोगिताओं में इनमें से अधिकांश कबूतरों ने राष्ट्रीय स्तर पर कई पदक जीते हैं। कई-कई घंटे बिना थके ये कबूतर उड़ते हैं, करतब दिखाते हैं। आप समझिये कि मैं बर्बाद हो गया।"
मायती ने आसपास में अपने कबूतरों को तलाशा, लेकिन कहीं पता नहीं चलने पर उन्होंने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवाई।

'मेरे कबूतर लौट आएंगे'
दुर्ग कोतवाली में मामले की रिपोर्ट दर्ज कर के अब पुलिस इस चोरी की जांच कर रही है। पद्मनाभपुर पुलिस चौकी के प्रभारी प्रमोद श्रीवास्तव कहते हैं, "कबूतर कहां गये, यह तो जांच का विषय है। लेकिन मेरी समझ से छत्तीसगढ़ में अपनी तरह का संभवतः यह पहला मामला है। इस मामले में हम ख़ास रुचि लेकर कबूतर और आरोपियों की तलाश कर रहे हैं।"
इन कबूतरों के मालिक रथिंद्र नाथ मायती को आशंका है कि इसी साल मई और जून के महीने में कबूतरबाज़ी की राष्ट्रीय स्पर्धा हो रही है और उनके 'चैंपियन' कबूतरों को इस स्पर्धा से दूर रखने के लिये किसी ने इस घटना को अंजाम दिया है।

मायती को इस बात का भी अफ़सोस है कि हैदराबाद में रहने वाले पुलिस के एक बड़े अधिकारी ने लाखों रुपए की क़ीमत वाले लगभग 25 कबूतर उन्हें भेंट किए थे। उनमें से भी 10 कबूतर गायब हैं।
मायती ख़ुद भी दुर्ग के अलावा पड़ोसी ज़िलों में अपने कबूतरों के बारे में पता करवा रहे हैं। उन्हें इस बात का भरोसा है कि उनके कबूतरों को बस एक बार मौका मिल जाए, वे जहां-कहीं भी होंगे मायती के पास लौट आएंगे।
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

मुंगेर के निसार हैं 'लावारिस शवों के मसीहा'

मुंगेर के निसार हैं 'लावारिस शवों के मसीहा'
जहां धर्म और मजहब के नाम पर हिंदू और मुसलमानों के बीच तनाव की खबरें सुर्खियों में आती ...

शवों के साथ एकांत का शौक रखने वाला यह तानाशाह

शवों के साथ एकांत का शौक रखने वाला यह तानाशाह
चार अगस्त, 1972, को बीबीसी के दिन के बुलेटिन में अचानक समाचार सुनाई दिया कि युगांडा के ...

तो क्या खुल गया स्टोनहेंज का राज?

तो क्या खुल गया स्टोनहेंज का राज?
शायद आपने फिल्मी गानों में इन रहस्यमयी पत्थरों को देखा हो। इंग्लैंड में प्राचीन पत्थरों ...

कैंसर ने इरफान खान को बदल डाला

कैंसर ने इरफान खान को बदल डाला
अपने एक्टिंग से बॉलीवुड और हॉलीवुड को हिलाने वाले इरफान खान ने कैंसर की खबर के बाद पहला ...

दिल्ली का जीबी रोड: जिस सड़क का अंत नहीं

दिल्ली का जीबी रोड: जिस सड़क का अंत नहीं
दिल्ली की एक सड़क है, जिसका नाम सुनते ही लोगों की भौंहें तन जाती हैं और वे दबी जुबान में ...

इंडोनेशिया में भूकंप के तेज झटके, तीव्रता 7.2

इंडोनेशिया में भूकंप के तेज झटके, तीव्रता 7.2
मतारम। इंडोनेशिया के लोम्बोक द्वीप पर रविवार को दो बार भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। ...

स्कूल बुक में फरहान अख्तर को बताया मिल्खा सिंह, फरहान ने इस ...

स्कूल बुक में फरहान अख्तर को बताया मिल्खा सिंह, फरहान ने इस तरह जताई नाराजगी
मुंबई/कोलकाता। पश्चिम बंगाल में एक स्कूल की पाठ्यपुस्तक में फरहान अख्तर को प्रसिद्ध एथलीट ...

सिद्धू से अमरिंदर भी नाराज, कहा- पाक सेना प्रमुख को गले ...

सिद्धू से अमरिंदर भी नाराज, कहा- पाक सेना प्रमुख को गले लगाना गलत
चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने रविवार को कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू ...