वर्ल्ड कप 2019: गेंद लगने के बाद भी आख़िर क्यों नहीं गिर रहीं गिल्लियां

पुनः संशोधित सोमवार, 10 जून 2019 (12:51 IST)
भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया। विश्व कप 2019। ऑस्ट्रेलियाई पारी का दूसरा ओवर। गेंद भारतीय तेज़ गेंदबाज़ जसप्रीत बुमराह के हाथ में। ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ डेविड वॉर्नर के बल्ले से लगकर गेंद स्टंप्स को छू गई और बुमराह खुशी में उछल ही पड़े थे कि यह क्या! कम्बख़्त गिल्लियां फिर से नहीं गिरीं।
.
नहीं गिरीं जी फिर से नहीं गिरीं
विश्व कप 2019 में अब विकेटों की गिल्लियां ही चर्चा के केंद्र में आ गई हैं। गिल्लियां गिरे बिना बल्लेबाज़ को आउट नहीं माना जा सकता, भले ही गेंद चाहे विकेटों से कुश्ती लड़कर आई हो। इस विश्व कप में पांच बार ऐसा हो चुका है जब गेंद विकेटों पर छुई या लगी लेकिन गिल्लियां नहीं गिरीं।

ऐसा क्यों हो रहा है?
इसकी वजह है इस विश्वकप में ख़ास तौर पर इस्तेमाल की जा रही ज़िंग गिल्लियां जिसके भीतर फ्लैशिंग लाइट्स हैं। कहा जा रहा है कि इस वजह से इनका वज़न अधिक है। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान आरोन फिंच ने इस बारे में कहा था, "मुझे लगता है कि नए लाइट वाले स्टम्प्स के साथ गिल्लियां कुछ भारी हो गई हैं। इसलिए उन्हें गिराने में कुछ ज़्यादा ही ताक़त की ज़रूरत पड़ती है।"
कुछ लोग यह भी कह रहे हैं कि स्टम्प्स के शीर्ष पर जिन गड्ढों में गिल्लियां फंसी रहती हैं, वे गड्ढे इस बार कुछ अधिक गहरे बना दिए गए हैं। इसलिए गेंद की तेज़ चोट के बाद भी वो उनमें फंसी रह जाती हैं।

हालांकि आईसीसी इन गिल्लियों को समस्या नहीं मान रहा। उसका कहना है कि इनका वज़न सामान्य गिल्लियों और तेज़ हवा वाले दिनों के लिए रखी जाने वाली वज़नदार गिल्लियों के बीच का है। लेकिन चूंकि इस विश्वकप के 14 मुक़ाबलों में पांच बार गिल्लियां गिरने से इनकार कर चुकी हैं, इसलिए सवाल उठ रहे हैं।
आइए नज़र डालते हैं इस विश्वकप में कब-कब नहीं गिरीं गिल्लियां:

1. इंग्लैंड बनाम दक्षिण अफ़्रीका-
दक्षिण अफ्रीकी पारी का 11वां ओवर

लेग स्पिनर आदिल रशीद ने दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज़ क्विंटन डिकॉक को गेंद फेंकी। क्या हुआ कुछ समझ नहीं आया। लेग स्टंप के पीछे गिरी गेंद को डिकॉक ने रिवर्स स्वीप करने की कोशिश की लेकिन गेंद बल्ले से लगकर ऑफ़ स्टम्प से लगी और फिर पीछे चली गई। इंग्लैंड को लगा कि उन्होंने डिकॉक को बोल्ड मार दिया है। लेकिन गिल्लियां नहीं गिरी थीं। इसलिए डिकॉक को मिला चौका।
2. न्यूज़ीलैंड बनाम श्रीलंका
श्रीलंकाई पारी का छठा ओवर

तेज़ गेंदबाज़ ट्रेंट बोल्ट श्रीलंकाई बल्लेबाज़ करुणारत्ने को गेंद फेंक रहे थे। करुणारत्ने ने गेंद के कोण से उलट कट करने की कोशिश की। गेंद अंदरूनी किनारा लेकर स्टम्प का स्पर्श लेते हुए निकल गई। रिप्ले में दिखा कि गिल्लियां सुस्ती में ज़रा सा हिलीं, फिर वापस अपनी जगह पर सेटल हो गईं।

3. ऑस्ट्रेलिया बनाम वेस्टइंडीज़
वेस्टइंडीज़ की पारी का तीसरा ओवर
मिचेल स्टार्क ने क्रिस गेल के ख़िलाफ़ विकेटकीपर के हाथों लपके जाने की अपील की, अंपायर ने ज़रूर कुछ सुना था, उन्होंने आउट दे दिया। लेकिन गेल ने तुरंत डीआरएस का इस्तेमाल कर फैसले को चुनौती दी। रिव्यू से पता चला कि गेंद गेल का बल्ला नहीं, ऑफ़ स्टम्प को छूकर गई थी। गेल मुस्कुराए और एरोन फिंच को सिर पर हाथ रखे देखा गया।

4. इंग्लैंड बनाम बांग्लादेश
बांग्लादेशी पारी का 46वां ओवर
इंग्लैंड के बेन स्टोक्स ने छोटी गेंद फेंकी, सैफ़ुद्दीन शॉट लगाने की कोशिश में अक्रॉस द लाइन चले गए। गेंद उनके शरीर से टकराई और स्टम्प से टकराकर लौट आई। लेकिन गिल्लियां नहीं गिरीं। 22 साल का यह नौजवान ऑलराउंडर भी भाग्यशाली निकला।

5. भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया
ऑस्ट्रेलियाई पारी का दूसरा ओवर

स्ट्राइक पर डेविड वॉर्नर थे। जसप्रीत बुमराह की गेंद पर्याप्त तेज़ी से स्टम्प पर लगी लेकिन गिल्लियों का एक बार फिर अपनी जड़ों से हिलने से इनकार। गुड लेंग्थ से कुछ छोटी गेंद थी, वॉर्नर ने रक्षात्मक तरीक़े से रोकने की कोशिश की थी लेकिन अंदरूनी किनारा लगा और गेंद लेग स्टम्प पर जा लगी।

और भी पढ़ें :