0

बाल दिवस पर कुछ सोचें

शुक्रवार,नवंबर 14, 2008
0
1
बाल दिवस, हर साल मनाया जाने वाला त्योहार। पर लगता है दुनिया में धीरे-धीरे बच्चों का अकाल पड़ता जा रहा है। पहले बचपन ...
1
2
बच्चे ईश्वर की वह सुंदर कृति है, जो मासू‍मियत और सच्चाई की माटी से निर्मित है। बालमन की कोमल भावनाएँ वह कुछ कर जाती है, ...
2
3

बच्चे एडवर्ल्ड के 'सुपरमैन'

गुरुवार,नवंबर 13, 2008
उनको देखकर पूरा परिवार आकर्षित हो जाता है। भाई-बहन से लेकर आसपास के रहने वाले भी इस पर मुग्ध रहते हैं। बच्चों में वो ...
3
4
हमने अपने बच्चों को खेलते हुए देखना लगभग भुला दिया है। हम सब कुछ देखते हैं, बच्चों का खेल नहीं। आखिर ऐसा क्या है ...
4
4
5

चाचा नेहरू तुम्हें सलाम

गुरुवार,नवंबर 13, 2008
चाचा नेहरू तुम्हें सलाम। अमन-शांति का दे पैगाम॥ जग को जंग से बचाया। हम बच्चों को भी मनाया॥
5
6
राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की तरह पंडित जवाहरलाल नेहरू भी भारत-पाक विभाजन के पक्ष में नहीं थे बल्कि वे उसे ऐतिहासिक ...
6
7
चाचा नेहरू भारत के पहले प्रधानमंत्री थे और तीन मूर्ति भवन प्रधानमंत्री का सरकारी निवास था। एक दिन तीन मूर्ति भवन के ...
7
8

कहीं मुरझा न जाए बचपन

गुरुवार,नवंबर 13, 2008
बच्चे इस जमीं के तारे हैं। इस जमीं के फूल हैं। आपने इन फूलों को नहीं खिलने दिया तो फिर कौन इन्हें खिलने देगा? माली बन ...
8
8
9

पं. नेहरू की कुछ खास बातें

गुरुवार,नवंबर 13, 2008
पंडित नेहरू शुरू से ही गाँधीजी से प्रभावित रहे और 1912 में कांग्रेस से जुड़े। 1920 के प्रतापगढ़ के पहले किसान मोर्चे को ...
9