गेमचेंजर साबित हो सकती है TATA Nexon, जानिए क्या है खास...

Author संदीपसिंह सिसोदिया| Last Updated: सोमवार, 23 अक्टूबर 2017 (19:01 IST)
भारत में जब बात कार की हो तो टाटा मोटर्स को नजरअंदाज करना थोड़ा मुश्किल है। इंडिका, विस्टा जैसी दमदार इंजिन और मजबूत बॉडी वाली टाटा कारों ने एक जमाने में भारतीय सड़कों पर राज किया है  हालांकि बदलते परिदृश्य में कॉम्पैक्ट एसयूवी और कारों की होड़ में टाटा काफी पिछड़ चुकी है। लेकिन ठहरिए साहब, टाटा ने एक सेगमेंट में जोरदार एंट्री करते हुए अपनी पहली कॉम्पैक्ट एसयूवी को लॉन्च कर दिया है। नेक्सन टाटा मोटर्स की चार मीटर से कम पहली स्पोटर्स यूटिलिटी कार है। टाटा मोटर्स ने इसे मारुति की विटारा ब्रेजा और फोर्ड की इकोस्पोर्ट को टक्कर देने के लिए लॉन्च किया है। 
 
वैसे इस कार का मुजाहिरा टाटा ने 2014 के ऑटोएक्पो में किया था, तब इसे टाटा की कॉन्सेप्ट कार के तौर पर प्रदर्शित किया गया था। तब भी हमने अपने पाठकों को इस बारे में बताया था और जब यह कार भारतीय सड़कों पर फर्राटे भरने जा रही है तो हमने सोचा कि इसका रोड ट्रायल तो बनता ही है। तो आइए चलते है टाटा की इस नई और स्टायलिश नेक्सन के टेस्ट राइड पर.. 

सबसे पहले बात करते हैं इसके लुक्स की, यह टाटा की अबतक की सबसे गुड लुकिंग और स्टायलिश कार है जो एग्रेसिव बॉडी लाइन, कर्वी फ्रंट लुक्स और 16 इंच के अलॉय व्हील्स से बेहद शानदार प्रजेंटेशन देती है। हमारे सामने ही इस कार के बारे पूछताछ करने कई लोग, खासतौर पर युवा, आ गए जिससे इसकी बेहतरीन रोड प्रजेंस साबित होती है। इसका इंटीरियर भी बेहद शानदार है, फ्रंट कंसोल और डैशबोर्ड में प्रीमियम क्वालिटी दिखाई देती है। 
 
सामने से देखें तो कार बहुत ही आकर्षक नजर आती है, साथ ही इसका डुअल पेंट कलर स्कीम इसे बेहद शानदार बनाता है। लेकिन यह  डुअल पेंट कलर स्कीम सिर्फ रेड और ब्ल्यु टॉप वेरिएंट में ही दिया है। इसके अलावा इसमें स्टाइलिश प्रोजेक्टर हेडलैंप, फेलाइन-आई शेप्ड डे-टाइम रनिंग लाइट लगाया गया है। ब्लिस्टर टर्न सिग्नल लाइट है। हेडलैम्प एक ब्लैक विंडो की तरफ है। ग्रिल के नीचे टाटा सिग्नेचर डिज़ाइन और फ्रंट क्रोम-आउट अब हेडलाइट्स के नीचे भी फैली हुई है। इसके अलावा इसमें हनी-कॉम्ब ग्रिल और फॉग लैंप लगाया गया है।
 
कार के पिछले हिस्से की बात करें तो टाटा ने एक्स फैक्टर डिजाइन दी है जो ड्युल कलर और आकर्षक क्रिस्टल क्लियर एलईडी टेललाइट, बंपर पर ब्लैक प्लास्टिक क्लैडिंग लगाया गया है जो काफी आकर्षक है। 
 
कार में बैठते ही आपको एक लग्जरी कार की फील मिलती है। एसयूवी में 6.5-इंच का फ्लोटिंग डैशबोर्ड टचस्क्रीन लगाया गया है जो सेगमेंट-फर्स्ट फीचर है, टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम से जुड़ा हुआ है। कार में HARMAN इंफोटेनमेंट सिस्टम लगा है जिसके साथ 8-स्पीकर लगाए गए हैं। इस सिस्टम में स्मार्टफोन कनेक्टिविटी, एप्पल कारप्ले, एंड्रॉयड ऑटो और नेविगेशन की सुविधा दी गई है जिसमें टेक्स्ट मेसैज के रिप्लाई और व्हाट्सएप मैसेज को पढ़ने की भी सुविधा दी गई है। टेकी स्पीडोमीटर, डीप ग्लोव कंपार्टमेंट और खूबसूरत गियर नॉब के साथ ड्राइव ऑप्शन कंसोल इसे बेहद आकर्षक लुक देता है। 
 
इस कार में सुविधाजनक यूटिलिटी जगह है जिनमें कप होल्डर, चारों दरवाजों में बॉटल होल्डर और सबसे खास आर्म रेस्ट के सामने स्लाइडिंग मोबाइल और वॉलेट होल्डर है। टाटा नेक्सन में एक खास अम्ब्रेला होल्डर (छाता रखने की जगह) दिया गया है जो एक प्रीमियम फीचर है जो ज्यादातर रॉयल्स रॉयस जैसी प्रीमियम सैलून कारों में देखने को मिलती है। 
स्पेशियस : फ्रंट और रियर सीट में अच्छा खासा केबिन रूम और सिटिंग स्पेस है। दोनों ही जगह अच्छा लेगरूम और शोल्डर रूम है। हालांकि, रियर सीट पर तीसरे पैसेंजर के बैठने के बाद थोड़ी परेशानी हो सकती है। दोनों ही रो में लगी सीटों में प्रीमियम क्वॉलिटी के कुशन का इस्तेमाल किया गया है जो काफी आरामदायक है। थाई और लंबर सपोर्ट भी ठीक-ठाक है।  बैक सीट दो व्यस्क लोगों या 2+1 (बच्चों सहित) के लिए आदर्श है। पैसेंजर सीट के सामने रियर एसी स्पीड कंट्रोल नॉब के साथ और सीट के पीछे 12 वोल्ट का मोबाइल चार्जर भी है। 350 लीटर बूटस्पेस जो जो रियर सीट को फोल्ड करने के बाद 690 लीटर का हो जाता है।    
 
हमने इस कार का टॉप एंड डीजल वेरिएंट एक्सजेड प्लस टेस्ट किया जो 1.5 लीटर 4-सिलेंडर टर्बोचार्ज्ड रेवोटॉर्क  इंजन है, यह 109 पीएस का पावर और 260 न्यूटन मीटर का टॉर्क जेनरेट करता है। इसकी एक विशेषता यह है कि ड्राइविंग एक्सपीरिएंस को बेहतर बनाने के लिए इसमें तीन ड्राइविंग मोड दिए गए हैं जिसे इको, सिटी और स्पोर्ट्स मोड नाम दिया गया है। गियर ट्रांसमिशन के लिए इसमें 6+1 स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स दिया गया है। कार का क्लच भी आम डीज़ल कारों की तुलना में थोड़ा हल्का है। टाटा के पहले दिए गए स्टियरिंग के मुकाबले छोटा स्टीयरिंग (टिगोर का) भी प्रभावी और रिस्पॉन्सिव है। 
 
हमने इस कार को समतल सड़क और थोड़ा ऑफरोड़ टेस्ट किया। नेक्सन के सस्पेंशन काफी अच्छे है और 40 किमी/घंटा की स्पीड में भी बम्प और मल्टीलेयर स्पीडब्रेकर पर सस्पेंशन ने काफी अच्छा प्रदशन किया। सिटी मोड पर 2 गियर में थोड़ा एक्सीलरेट करना पड़ा मगर स्पोर्ट मोड में नेक्सन बेहतरीन पिकअप दिखाती है। ईको मोड पर कार के इंजिन और ईकोऑन एसी ऑप्शन पर नेक्सन थोड़ा संघर्ष करते महसूस होती है मगर कंपनी के 21 किमी/लीटर के माईलेज के हिसाब से यह कोई बड़ी खामी नहीं है।  टाटा नेक्सन ग्राउंड क्लीयरेंस सेगमेंट में सबसे बड़ा है, इसका ग्राउंड क्लीयरेंस 209 एमएम है। जो इसकी निकटतम प्रतिद्वंदी ईकोस्पोर्ट और मारुति ब्रेजा से बेहतर  है।
 
कुल मिलाकर हमारा नेक्सन का सफर उम्मीदों से बेहतरीन रहा और इसके फीचर्स ने तो सच में हमें बेहद प्रभावित किया। बकौल टाटा, नेक्सन उनके परंपरागत रुख से अलग हटने की कोशिश है जो इस कार को देखकर साबित होता है। इस कार के खरीददार युवा होंगे जो वेल्यु फॉर मनी में विश्वास रखते हैं। 
 
इस मॉडल को उतारने के साथ टाटा मोटर्स का लक्ष्य कॉम्पेक्ट स्पोर्ट्स यूटिलिटी कार सेगमेंट में टॉप 5 में पहुंचना है। कंपनी ने बाजार में बढ़ रही प्रतिस्पर्धा को देखते हुए टाटा नेक्सन में कई हाईटेक फीचर्स दिए हैं। जो सभी तरह से मारुति ब्रेजा और फोर्ड इकोस्पोर्ट को टक्कर दे सकती है। फीचर्स के मामले में इस सेगमेंट में टाटा नेक्सन को सबसे कम कीमत वाला बताया जा रहा है।  नेक्सन चार वेरियंट एक्सई, एक्सएम, एक्सटी और एक्सजेड प्लस में मिलेगी। सबसे खास बात है कि ड्यूल एयरबैग, एबीएस और ईबीडी जैसे सेफ्टी फीचर इसके सभी वेरियंट में स्टैंडर्ड दिए गए हैं। 
 
कितना है दम : टाटा नेक्सन में दो इंजन के ऑप्शन हैं। जिसमें एक पेट्रोल और दूसरा डीजल इंजन है। इसमें 1.2- लीटर टर्बोचार्ज्ड इंजन और 1.5- लीटर डीजल इंजन का ऑप्शन है। पेट्रोल वेरियंट में 1.2 लीटर DOHC 3-सिलेंडर टर्बोचार्ज्ड रेवोट्रॉन मोटर होगा। यह 110पीएस का पावर और 170 न्यूटन मीटर का टॉर्क जेनरेट करेगा। डीजल वैरियंट में 1.5 लीटर 4-सिलेंडर टर्बोचार्ज्ड रेवोटॉर्क इंजन होगा, जो कि 109 पीएस का पावर और 260 न्यूटन मीटर का टॉर्क जेनरेट करेगा। 
 
पेट्रोल वेरिएंट में 1.2 लीटर का 3-सिलेंडर रेवोट्रोन इंजन दिया गया है, जो 110 पीएस की पावर और 170 एनएम का टॉर्क देता है। डीज़ल वेरिएंट में 1.5 लीटर का 4-सिलेंडर रेवोटॉर्क इंजन दिया गया है, इसकी पावर 110 पीएस और टॉर्क 260 एनएम है।  ऑटोमैटेड मैनुअल ट्रांसमिशन (एएमटी) का विकल्प आने वाले समय में दिया जाएगा। 
> > कुल मिलाकर हमें इस कार ने प्रभावित किया और इसके वेल्यु फॉर मनी फीचर्स को देखते हुए लगता है कि नेक्सन टाटा के लिए गेम चेंजर साबित हो सकती है। और हां, आपसे आग्रह है कि कार चलाते समय सीट बेल्ट जरूर लगाएं। बताएं, हमारा ऑटो रिव्यु आपको कैसा लगा।


वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :