नवग्रह पीड़ाहर स्तोत्र : सारे ग्रहों को एक साथ प्रसन्न करें


ग्रहों के द्वारा उत्पन्न पीड़ा का निवारण करने के लिए ब्रह्माण्डपुराणोक्त इस स्तोत्र का पाठ लाभदायक है। इसमें सूर्यादि नौ ग्रहों से क्रमश: एक-एक श्लोक के द्वारा पीड़ा दूर करने की प्रार्थना की गई है-

ग्रहाणामादिरात्यो लोकरक्षणकारक:। विषमस्थानसम्भूतां पीडां हरतु मे रवि: ।।1।।
रोहिणीश: सुधा‍मूर्ति: सुधागात्र: सुधाशन:। विषमस्थानसम्भूतां पीडां हरतु मे विधु: ।।2।।
भूमिपुत्रो महातेजा जगतां भयकृत् सदा। वृष्टिकृद् वृष्टिहर्ता च पीडां हरतु में कुज: ।।3।।
उत्पातरूपो जगतां चन्द्रपुत्रो महाद्युति:। सूर्यप्रियकरो विद्वान् पीडां हरतु मे बुध: ।।4।।
देवमन्त्री विशालाक्ष: सदा लोकहिते रत:। अनेकशिष्यसम्पूर्ण: पीडां हरतु मे गुरु: ।।5।।
दैत्यमन्त्री गुरुस्तेषां प्राणदश्च महामति:। प्रभु: ताराग्रहाणां च पीडां हरतु मे भृगु: ।।6।।
सूर्यपुत्रो दीर्घदेहा विशालाक्ष: शिवप्रिय:। मन्दचार: प्रसन्नात्मा पीडां हरतु मे शनि: ।।7।।
अनेकरूपवर्णेश्च शतशोऽथ सहस्त्रदृक्। उत्पातरूपो जगतां पीडां हरतु मे तम: ।।8।।
महाशिरा महावक्त्रो दीर्घदंष्ट्रो महाबल:। अतनुश्चोर्ध्वकेशश्च पीडां हरतु मे शिखी: ।।9।।
ग्रहों में प्रथम परिगणित, अदिति के पुत्र तथा विश्व की रक्षा करने वाले भगवान सूर्य विषम स्थानजनित मेरी पीड़ा का हरण करें ।।1।।

दक्षकन्या नक्षत्र रूपा देवी रोहिणी के स्वामी, अमृतमय स्वरूप वाले, अमतरूपी शरीर वाले तथा अमृत का पान कराने वाले चंद्रदेव विषम स्थानजनित मेरी पीड़ा को दूर करें ।।2।।

भूमि के पुत्र, महान् तेजस्वी, जगत् को भय प्रदान करने वाले, वृष्टि करने वाले तथा वृष्टि का हरण करने वाले मंगल (ग्रहजन्य) मेरी पीड़ा का हरण करें ।।3।।

जगत् में उत्पात करने वाले, महान द्युति से संपन्न, सूर्य का प्रिय करने वाले, विद्वान तथा चन्द्रमा के पुत्र बुध मेरी पीड़ा का निवारण करें ।।4।।

सर्वदा लोक कल्याण में निरत रहने वाले, देवताओं के मंत्री, विशाल नेत्रों वाले तथा अनेक शिष्यों से युक्त बृहस्पति मेरी पीड़ा को दूर करें ।।5।।

दैत्यों के मंत्री और गुरु तथा उन्हें जीवनदान देने वाले, तारा ग्रहों के स्वामी, महान् बुद्धिसंपन्न शुक्र मेरी पीड़ा को दूर करें ।।6।।

सूर्य के पुत्र, दीर्घ देह वाले, विशाल नेत्रों वाले, मंद गति से चलने वाले, भगवान् शिव के प्रिय तथा प्रसन्नात्मा शनि मेरी पीड़ा को दूर करें ।।7।।

विविध रूप तथा वर्ण वाले, सैकड़ों तथा हजारों आंखों वाले, जगत के लिए उत्पातस्वरूप, तमोमय राहु मेरी पीड़ा का हरण करें ।।8।।

महान् शिरा (नाड़ी)- से संपन्न, विशाल मुख वाले, बड़े दांतों वाले, महान् बली, बिना शरीर वाले तथा ऊपर की ओर केश वाले शिखास्वरूप केतु मेरी पीड़ा का हरण करें।।9।।


Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

राशिफल

सूर्य वृषभ राशि में, किन 5 राशियों को मिलेगा अधिक लाभ... ...

सूर्य वृषभ राशि में, किन 5 राशियों को मिलेगा अधिक लाभ... (जानें 12 राशियां)
15 मई को सूर्यदेव अपनी राशि परिवर्तन कर वृषभ में विराजे हैं। अब आने वाले 1 माह यानी 15 ...

बुध का वृषभ राशि में आगमन, क्या होगा आपकी राशि पर असर

बुध का वृषभ राशि में आगमन, क्या होगा आपकी राशि पर असर
27 मई से बुध वृषभ राशि, भरणी नक्षत्र में प्रवेश करेगा, जिसके परिणाम स्वरूप आपकी राशि पर ...

बहुत खास है बुधादित्य योग, 27 मई से मिलेगा 12 राशियों को ...

बहुत खास है बुधादित्य योग, 27 मई से मिलेगा 12 राशियों को शुभाशुभ फल
27 मई को बुध अपनी राशि परिवर्तन कर वृष राशि में प्रवेश करेंगे। आइए जानते हैं कि किन-किन ...

क्या होता है बुधादित्य योग, कैसा मिलता है इसका फल... (जानें ...

क्या होता है बुधादित्य योग, कैसा मिलता है इसका फल... (जानें कुंडली के 12 भाव)
ज्योतिष शास्त्र में सूर्य सबसे प्रधान ग्रह है। सूर्य का प्रभाव स्पष्ट रूप से दिखाई देता ...

आपके लिए जानना जरूरी है पुरुषोत्तम मास की ये 8 खास विशेष ...

आपके लिए जानना जरूरी है पुरुषोत्तम मास की ये 8 खास विशेष बातें...
ज्योतिष गणित में सूक्ष्म विवेचन के बाद अब स्वीकारा जा चुका है कि- जिस चंद्रमास में सूर्य ...

कैसे होते हैं कर्क राशि वाले जातक, जानिए अपना व्यक्तित्व...

कैसे होते हैं कर्क राशि वाले जातक, जानिए अपना व्यक्तित्व...
हम वेबदुनिया के पाठकों के लिए क्रमश: समस्त 12 राशियों व उन राशियों में जन्मे जातकों के ...

गंगा दशहरा कल, जानिए कैसे करें मां गंगा का पूजन, किस दान से ...

गंगा दशहरा कल, जानिए कैसे करें मां गंगा का पूजन, किस दान से मिलेगा पुण्य
गंगा दशहरा हिन्दुओं का प्रमुख त्योहार है। पुराणों के अनुसार गंगा दशहरा के दिन गंगा स्नान ...

24 मई को श्री गंगा दशहरा, यह पौराणिक कथा पढ़ने से मिलेगा ...

24 मई को श्री गंगा दशहरा, यह पौराणिक कथा पढ़ने से मिलेगा पुण्य लाभ
भगीरथ के तप से प्रसन्न होकर ब्रह्मा ने उनसे वर मांगने को कहा तो भगीरथ ने 'गंगा' की मांग ...

भारत की अस्मिता और गौरव की पहचान है गंगा नदी, पढ़ें ...

भारत की अस्मिता और गौरव की पहचान है गंगा नदी, पढ़ें ऐतिहासिक महत्व
मां गंगा ज्येष्ठ मास, शुक्ल पक्ष, तिथि दशमी, दिन मंगलवार, हस्त नक्षत्र में पृथ्वी पर ...

यात्रा में कोई अनिष्ट ना हो इसलिए घर से कर के निकलें यह 3 ...

यात्रा में कोई अनिष्ट ना हो इसलिए घर से कर के निकलें यह 3 सरल उपाय
आइए जानें मात्र 3 ऐसे उपाय जो घर से निकलते वक्त करने पर यात्रा के सफल होने की पूरी-पूरी ...