आश्चर्य .... एक सियार सिंगी में है कई समस्याओं का समाधान


क्या आप जानते हैं कि प्राचीन काल में घर में कई शुभ वस्तुएं रखी जाती थीं, उनमें से एक सियार सिंगी भी है। इन दिनों हर कोई ज्योतिष विज्ञान जानने का दावा करता है और कहीं से पढ़कर इस तरह की वस्तुओं के संग्रह की सलाह देता है। आइए आज हम आपको बताते हैं कि सियार सिंगी क्या है और इसे घर में रखने के क्या हैं?

सियार सिंगी (Siyar Singhi) बहुत ही चमत्कारी होती है। इसे घर में रखने से सकारात्मक उर्जा का अनुभव होता है।

सियार सिंगी बालों के गुच्छे की तरह होती है, असल में सियार के सींग नहीं होते परन्तु कुछ सियारों के नाक के ऊपर बालों का एक गुच्छा बन जाता है। धीरे धीरे वह कड़ा और बड़ा हो जाता है और सींग जैसा बन जाता है इसे सियार सिंगी कहते हैं और यह हजारों सियार में से किसी एक के नाक पर होता है।

इसमें वशीकरण की अद्भुत शक्ति होती है।

यदि इसे सिद्ध कर लिया जाए तो यह शक्ति हजारों गुना बढ़ जाती है।

इसके द्वारा आप किसी से भी किसी भी तरह का मनोवांछित काम करवा सकते हैं।

सियार सिंगी घर में रखने से सौभाग्य और उन्नति के नए द्वारा खुलने लगते हैं।

सियार सिंगी को घर में रखने पर शत्रु हथियार डाल देते हैं।

सियार सिंगी को सिद्ध कैसे करें

किसी भी पवित्र शुक्ल पक्ष तिथि को एक जोड़ा सियार सिंगी लें। अपने सम्मुख एक लाल रंग का कपड़ा बिछा दें और उस पर सियार सिंगी को स्थापित कर दें। इसके ऊपर थोड़ा सा गंगा जल छिड़क कर इसे शुद्ध कर लें। सियार सिंगी के सम्मुख एक सरसों के तेल का दिया प्रज्वलित कर दें। एक लाल रंग का कपड़ा बिछाकर आप भी उस पर बैठ जाएं। अब सियार सिंगी के ऊपर कुछ चावल, पांच इलायची और पांच लौंग चढ़ाएं। ऐसा करने के बाद आप इस मंत्र का 2100 बार उच्चारण करें।


ॐ चामुंडाय नम:

जप पूरा होने पर अग्नि में 21 बार गुग्गल की आहुति दें।

सियार सिद्धि मंत्र इस प्रकार है

ॐ नमो भगवती रुद्रानी चामुंडानि घोरानी सर्व पुरुष क्षोभनी सर्व शत्रु विद्रावनी।

ॐ आं क्रोम ह्रीं जों ह्रीं मोहाय मोहाय क्षोभय क्षोभय मम वशि कुरु वशि क्रीं श्रीं हीं क्रीं स्वः।।

मंत्र उच्चारण संपन्न होने के बाद एक चांदी की डिबिया में इस सियार सिंगी को कपूर, मीठे सिंदूर, 5 लौंग और 5 इलायची के साथ रख दें। अब यह सियार सिंगी सिद्ध हो चुका है। इस डिबिया में थोड़े से चावल और उड़द दाल के दाने भी डाल दें। इस डिबिया को प्रतिदिन पूजा के स्थान पर रखें।
सियार सिंगी का प्रयोग

इस सियार सिंगी को प्रयोग करने के लिए इस डिबिया से बाहर निकाल कर मंत्र का विधिवत उच्चारण करें और मां चामुंडा से कार्य सिद्धि हेतु निवेदन करें। सियार सिंगी वाली डिबिया में रखी इलायची का वशीकरण में प्रयोग किया जाता है। अगर आप किसी व्यक्ति को अपने वश में करना चाहते हैं या आप चाहते हैं कि वह आपके अनुरूप ही काम करे तो आप सियार सिंगी वाली डिबिया से कुछ इलायची निकाल कर उस व्यक्ति को खिला दें।

चेतावनी : इस प्रयोग से पूर्व किसी जानकार से सलाह अवश्य लें इसका असर विपरीत भी देखा गया है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

राशिफल

क्या लाया है नए घर का सपना आपके लिए, जानें 12 तरह के स्वप्न ...

क्या लाया है नए घर का सपना आपके लिए, जानें 12 तरह के स्वप्न फल
सपनों की दुनिया भी काफी सूक्ष्म है। सपने देखने के क्रम में ऐसे स्थान या दृश्य दिखाई पड़ते ...

अटल बिहारी वाजपेयी : खास है उनके जीवन में अंक 4 की भूमिका

अटल बिहारी वाजपेयी : खास है उनके जीवन में अंक 4 की भूमिका
पूर्व प्रधानमंत्री अटलजी के जीवन में अंक 4 की भूमिका कैसी और कितनी है, यह रोचक और जानने ...

इस साल क्या है रक्षाबंधन पर राखी बांधने का शुभ मुहूर्त, ...

इस साल क्या है रक्षाबंधन पर राखी बांधने का शुभ मुहूर्त, क्या धनिष्ठा पंचक बनेगा रुकावट
रक्षाबंधन का त्योहार इस वर्ष 26 अगस्त को है। इस साल अच्छी बात यह है कि राखी के दिन भद्रा ...

रक्षाबंधन में नहीं है भद्रा का दोष, ऐसे सजाएं राखी की थाली ...

रक्षाबंधन में नहीं है भद्रा का दोष, ऐसे सजाएं राखी की थाली अपने भाई के लिए
हिन्दू पंचांग के अनुसार रक्षाबंधन का शुभ मुहूर्त प्रातः 5 बजकर 59 मिनट से आरंभ होकर शाम 5 ...

घर की कौनसी दिशा बदल सकती है आपकी दशा, जानिए वास्तु के ...

घर की कौनसी दिशा बदल सकती है आपकी दशा, जानिए वास्तु के अनुसार
चारों दिशाओं से सुख-संपत्ति और सम्मान पाना है तो जानें वास्तु के अनुसार कैसी हो भवन की ...

रक्षाबंधन : शुभ मुहूर्त ही नहीं थाली सज्जा का भी है विशेष ...

रक्षाबंधन : शुभ मुहूर्त ही नहीं थाली सज्जा का भी है विशेष महत्व, जानें कैसे सजाएं राखी की थाली...
भाई- बहन के प्रेम और रक्षा के सूत्र का पावन पर्व रक्षाबंधन इस साल 26 अगस्त रविवार को ...

अटल बिहारी वाजपेयी की कुंडली में था कौन सा राजयोग? पढ़िए ...

अटल बिहारी वाजपेयी की कुंडली में था कौन सा राजयोग? पढ़िए कुंडली विश्लेषण ...
ऐसा चरित्र जब आंखों के सामने से होकर गुजरता है, तो यह सवाल मन में आना स्वभाविक है कि आखिर ...

20 से 26 अगस्त : साप्ताहिक राशिफल

20 से 26 अगस्त : साप्ताहिक राशिफल
आप जिसको पसंद करते हैं उसी की तरफ से पहल किए जाने की संभावना है। कैंडल लाइट डिनर की ...

रक्षाबंधन पर कैसे हो सकता है पंचक दोष निवारण, जानें उपाय

रक्षाबंधन पर कैसे हो सकता है पंचक दोष निवारण, जानें उपाय ...
इस बार रक्षाबंधन का पर्व प्रतिवर्षानुसार श्रावण शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि दिनांक 26 ...

कुंडली में शनि दे रहा है अशुभ फल, तो ये उपाय करेंगे आपकी ...

कुंडली में शनि दे रहा है अशुभ फल, तो ये उपाय करेंगे आपकी मदद...
नवग्रहों में शनि का महत्वपूर्ण स्थान माना गया है। शनि को आयु, कर्म, वैराग्य, नौकरी एवं ...