रत्न : कब, कितनी रत्ती का व किस रंग का पहनें


हमारे शरीर में ओरा होती है, यह नौ रंगों से प्रभावित होती हैं। इन्हीं हमारे जीवन पर पड़ता है। आपने वर्षा के दिनों में इंद्रधनुष आकाश मंडल में देखा होगा। वहीं रंग हमारे शरीर के इर्द-गिर्द होते हैं।

जिन रंगों की अधिकता हो जाती है, तब उस रंग के गुणों की अधिकता होने से अनावश्यक ही बाधा आती है या फिर उस रंग की कमी से कार्य क्षमता में रूकावट आने से काम नहीं बनता या अति आत्मविश्वास से हमें कई बार लाभ की जगह नुकसान होता है।
भी गहरे रंग के, कुछ हल्के रंग के आते हैं। रत्नों में भी कुछ खास बात होती है, कुछ पारदर्शी तो कुछ हल्के पारदर्शी तो कुछ अपारदर्शी भी होते हैं। एक अच्छा ज्योतिषी इन सब बातों को जानकर व आपकी पत्रिकानुसार ग्रहों की स्थिति जानकर व वर्तमान में ग्रहों की स्थिति, उनकी डिग्री को जानकर, कौन-सा रत्न व किस रंग का किस अनुपात में पहनना है यह बात वही जानता है। तभी रत्नों का सही लाभ पाया जा सकता है।

मान लीजिए किसी को पुखराज पहनना है तो उस जातक को कितनी रश्मियों की जरूरत है व कितने समय के लिए उसको धारण करना है उस जातक की पत्रिका देखकर ही पता लगाया जा सकता है। किसी को पीले रंग की ज्यादा जरूरत है, तो उसे गहरे पीले रंग का पुखराज पहनाने से लाभ होगा। किसी को पीला रंग कम चाहिए या संतुलन हेतु रत्न धारण कराना है, तो उसके हिसाब से रत्न पहनाने पर लाभ होगा।

इसी प्रकार अन्य रत्नों के रंगों के बारे में जानकर लाभ पाया जा सकता है। अब मोती को लें, मोती सफेद होता है व शीतलता का कारक है। किसी को सफेद रंग की आवश्यकता है तो उसे मोती पहनना चाहिए, लेकिन यदि उसे सफेद रंग की आवश्यकता तो है लेकिन ऊष्मा की आवश्यकता है, शीतलता की नहीं तो उसे सफेद मूंगा ही धारण करवाने पर अपेक्षित लाभ मिल सकेगा, ना की मोती से।



वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

राशिफल

मां भगवती के 32 नाम, जपने से पूरे होंगे सारे काम, जानिए ...

मां भगवती के 32 नाम, जपने से पूरे होंगे सारे काम, जानिए कैसे करें जप...
मां भगवती को अपने यह 32 नाम अति प्रिय हैं। इन्हें सुनकर वे पुलकित हो जाती हैं। वर्षभर में ...

27 जुलाई को चन्द्रग्रहण पर 'केमद्रुम योग' का बेहद खास ...

27 जुलाई को चन्द्रग्रहण पर 'केमद्रुम योग' का बेहद खास संयोग, दारिद्रय योग से मुक्ति के लिए करें 10 सरल उपाय
27 जुलाई 2018 को होने वाले चंद्र ग्रहण पर इस बार 'केमद्रुम योग' नाम का बेहद खास संयोग बन ...

27 जुलाई को गुरु पूर्णिमा : गुरु को दिया यह उपहार होगा आपके ...

27 जुलाई को गुरु पूर्णिमा : गुरु को दिया यह उपहार होगा आपके लिए शुभ, जानिए क्या दें 12 राशियों के अनुसार
27 जुलाई 2018 को गुरु पूर्णिमा पर जब आप अपने गुरुजी का आशीर्वाद लेने जाएं, तब उनका पूजन ...

आपने नहीं पढ़ी होगी गुप्त नवरात्रि से जुड़ी यह प्रामाणिक ...

आपने नहीं पढ़ी होगी गुप्त नवरात्रि से जुड़ी यह प्रामाणिक एवं प्राचीन कथा
गुप्त नवरात्रि से जुड़ी कथा के अनुसार एक समय ऋषि श्रृंगी भक्तजनों को दर्शन दे रहे थे। ...

जानिए क्या है केमद्रुम योग, यह योग जातक को बना देता है

जानिए क्या है केमद्रुम योग, यह योग जातक को बना देता है कंगाल
लग्न चक्र के विविध योगों में केमद्रुम योग एक ऐसा योग है, जिसके कारण बहुत कठिनाइयां सामने ...

मां दुर्गा को सबसे प्रिय हैं ये 4 सरल मंत्र, चारों दिशाओं ...

मां दुर्गा को सबसे प्रिय हैं ये 4 सरल मंत्र, चारों दिशाओं से मिलेगी सफलता
मां दुर्गा के स्वरूपों का स्मरण करते हुए निम्न मंत्रों का जप नवरा‍त्रि के अलावा प्रतिदिन ...

देवशयनी एकादशी 2018 : 23 जुलाई से नहीं हो सकेंगे शुभ ...

देवशयनी एकादशी 2018 : 23 जुलाई से नहीं हो सकेंगे शुभ मांगलिक कार्य, जानिए महत्व भी...
आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की ग्यारहवीं (ग्यारस) तिथि को देवशयनी एकादशी मनाई जाती है। इस वर्ष ...

क्या आप जानते हैं कैसे करें दुर्गासप्तशती का पाठ, पढ़ें ...

क्या आप जानते हैं कैसे करें दुर्गासप्तशती का पाठ, पढ़ें प्रामाणिक विधि
नवरात्रि में दुर्गासप्तशती का पाठ करना अनन्त पुण्य फलदायक माना गया है। 'दुर्गासप्तशती' के ...

16 जुलाई से कर्क में सूर्य, जानिए किस राशि के लिए शुभ, ...

16 जुलाई से कर्क में सूर्य, जानिए किस राशि के लिए शुभ, किसके लिए अशुभ
सोमवार, 16 जुलाई 2018 को सूर्य 22.42 बजे कर्क राशि में गोचर भ्रमण करेगा और 17 अगस्त 2018 ...

शुक्र इन दिनों मघा नक्षत्र में, जानिए क्या कुछ घटित होगा ...

शुक्र इन दिनों मघा नक्षत्र में, जानिए क्या कुछ घटित होगा आपके जीवन में
5 जुलाई, गुरुवार को रात्रि 12.53 पर शुक्र ने मघा नक्षत्र अर्थात सिंह राशि में प्रवेश कर ...