Widgets Magazine

कहां से आए रत्न कैसे बने कीमती, पढ़ें पौराणिक कथा

रत्नों के उद्भम की पौराणिक कथाएं

WD|
FILE


ने भी पुराण परंपरा का आश्रय ले आज से 1500 वर्ष पूर्व अपनी वृहतसंहिता में का वर्णन करते हुए रत्नोत्पत्ति के कारणों का वर्णन किया है, परंतु उन्होंने साथ ही 'केचिद्भुव: स्वभावाद्वैचित्र्यं प्राहुरूपलानाम् (पृथ्वी के स्वभाव ही से कुछ लोगों के मत से रत्नों की विचित्रता हुई है) कहकर अपने ऊपर कोई जिम्मेदारी नहीं ली।

रत्नानि बलाद्दैत्याद्दैधिचितोन्ये वदंन्ति जातानि।
केचिद् भुव: स्वभावाद्वैचित्र्यं प्राहुरूपलानाम।

आगे पढ़ें रत्नों के उद्भम की पौराणिक कथाएं

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine
Widgets Magazine