अमीर लोगों के इस तरह के होते हैं सिग्नेचर

Last Updated: शुक्रवार, 3 जुलाई 2015 (12:04 IST)
अगर आपने अमिताभ बच्चन के शो कौन बनेगा करोड़पति को देखा हो तो आपने विनर के लिए अमिताभ बच्चन के द्वारा चेक साइन करते हुए भी देखा होगा। सबसे महत्वपूर्ण बात उनके के नीचे लाइन खींचना और लाइन के नीचे दो बिंदु बना देना है।     
इस तरह के सिग्नेचर को पूर्ण सिग्नेचर कहते हैं। अगर आप इस तरह से ही सिग्नेचर करते हैं तो आप भाग्यशाली हैं। इसके अलावा कई और चीजें भी हैं जो आपको सिग्नेचर के दौरान याद रखनी चाहिए।
 
आज के समय की सबसे बड़ी समस्या ये है कि ज्यादातर लोगों के पास पर्याप्त धन नहीं है। ये वही बात हो गई खर्चा रुपया आमदनी अठन्नी। लोग दिन और रात मेहनत करने के बावजूद  पैसे की बचत नहीं कर पाते।
 
इससे वे बड़े नाखुश होते हैं कि क्योंकि वे जानते हैं कि धन की बचत बेहद जरूरी है क्योंकि इसकी आवश्यकता कभी भी इंमरजेंसी में पड़ सकती है।     
 
लेकिन क्या आपको पता है कि वित्तीय मामलों में आपके सिग्नेचर की भूमिका बहुत मायने रखती हैं। आपका एक गलत सिग्नेचर आपको लाखों का घाटा करा सकता है वहीं एक सही सिग्नेचर आपके भाग्य को मजबूत बनाता है।
 
अगर आप अपने आपको वित्तीय समस्याओं से निजात दिलाना चाहते हैं तो आपको अपने सिग्नेचर में बदलाव करने की जरूरत है। के मुताबिक अगर आप खूब पैसा कमाते हैं लेकिन आपकी बचत नहीं हो पाती तो आपको अपने सिग्नेचर के नीचे एक सीधी लाइन बनाते हुए उसके नीचे दो बिंदुओं को लगाना चाहिए।
 
जैसे ही आपकी बचत होने लगे आप अपने सिग्नेचर में बिंदुओं की संख्या बढ़ाते जाएं। ये बिंदु 6 से अधिक नहीं हो सकते। इसके साथ ही अपने माता-पिता के चरण स्पर्श रोज करें और बड़ों को सम्मान दें।        
 
अगले पेज पर जानिए सिग्नेचर करने के नियम...

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

राशिफल

क्या अमरनाथ गुफा में शिवलिंग के साथ ही बर्फ से निर्मित होते ...

क्या अमरनाथ गुफा में शिवलिंग के साथ ही बर्फ से निर्मित होते हैं पार्वती और गणेश?
अमरनाथ गुफा में शिवलिंग का निर्मित होना समझ में आता है, लेकिन इस पवित्र गुफा में एक गणेश ...

इन पौराणिक कथाओं से जानिए कि क्यों प्रिय है शिव को श्रावण ...

इन पौराणिक कथाओं से जानिए कि क्यों प्रिय है शिव को श्रावण मास,अभिषेक और बेलपत्र
पौराणिक कथा है कि जब सनत कुमारों ने महादेव से उन्हें श्रावण महीना प्रिय होने का कारण पूछा ...

कौन है जापानी लकी कैट, क्यों करती है यह हमारी मदद... जानें ...

कौन है जापानी लकी कैट, क्यों करती है यह हमारी मदद... जानें पूरी कहानी
लकी कैट जापान से आई है। घर में इस बिल्ली की प्रतिमा रखने मात्र से ही व्यक्ति की सारी ...

श्रावण मास में शिव-पूजा से पहले पढ़ें यह नियम, वरना नहीं ...

श्रावण मास में शिव-पूजा से पहले पढ़ें यह नियम, वरना नहीं मिलेगा पूरा फल, मंत्र की गल‍ती कर सकती है बर्बाद
श्रावण भगवान शिव का प्रिय महीना है, इन दिनों चारों ओर से मंत्र जाप की ध्वनि सुनाई देगी, ...

ज्योतिष सच या झूठ, जानिए रहस्य

ज्योतिष सच या झूठ, जानिए रहस्य
गीता में लिखा गया है कि ये संसार उल्टा पेड़ है। इसकी जड़ें ऊपर और शाखाएं नीचे हैं। यदि कुछ ...

रोचक जानकारी : यह है उम्र के 9 खास पड़ाव, जानिए कौन सा ग्रह ...

रोचक जानकारी : यह है उम्र के 9 खास पड़ाव, जानिए कौन सा ग्रह किस उम्र में करता है असर
लाल किताब अनुसार कौन-सा ग्रह उम्र के किस वर्ष में विशेष फल देता है इससे संबंधित जानकारी ...

23 जुलाई को है साल की सबसे बड़ी शुभ एकादशी, जानिए व्रत कथा ...

23 जुलाई को है साल की सबसे बड़ी शुभ एकादशी, जानिए व्रत कथा और पूजन विधि
देवशयनी एकादशी आषाढ़ शुक्ल एकादशी यानि 23 जुलाई 2018 को है। देवशयनी एकादशी के दिन से ...

3 स्वर, 3 नाड़ियां... जीवन और सेह‍त दोनों को बनाते हैं शुभ, ...

3 स्वर, 3 नाड़ियां... जीवन और सेह‍त दोनों को बनाते हैं शुभ, जानिए क्या है स्वरोदय विज्ञान
स्वर विज्ञान को जानने वाला कभी भी विपरीत परिस्थितियों में नहीं फंसता और फंस भी जाए तो ...

आषाढ़ पूर्णिमा 27 जुलाई को है सबसे बड़ा चन्द्रग्रहण, किस राशि ...

आषाढ़ पूर्णिमा 27 जुलाई को है सबसे बड़ा चन्द्रग्रहण, किस राशि पर कैसा होगा असर, यह 4 राशियां रहें सावधान
इस साल का सबसे बड़ा चन्द्रग्रहण 27-28 जुलाई 2018 को आषाढ़ पूर्णिमा के दिन खग्रास ...

भगवान विष्णु को समर्पित भडली नवमी का त्योहार 21 जुलाई को

भगवान विष्णु को समर्पित भडली नवमी का त्योहार 21 जुलाई को
प्रतिवर्ष आषाढ़ शुक्ल नवमी को भडली (भडल्या) नवमी पर्व मनाया जाता है। नवमी तिथि होने से इस ...