दिसंबर माह : कैसा होगा देश-विदेश के लिए

jyotish ki nazar
माह में कैसा होगा देश-विदेश का मौसम, व्यापार और माहौल.... आइए जानें

वर्ष का अंतिम माह दिसंबर व्यापार के लिए मिलाजुला रहेगा। 3 दिसंबर से सूर्य ज्येष्ठा नक्षत्र में है। सोना, चांदी, चावल, गेहूं, जौ, चना, अलसी, सरसों, हींग, गूगल, पारा, गुड़, शकर में तेजी रहेगी एवं रुई के भाव में उतार-चढ़ाव रहेगा।

9 दिसंबर से ज्येष्ठा नक्षत्र में होने से सोना, चांदी, चावल, सरसों, तिल, तेल, हींग में मंदी आएगी।

10 दिसंबर से का स्वाति नक्षत्र में रहने से रुई, ऊनी वस्त्र, गेहूं में तेजी रहेगी।

16 दिसंबर को सूर्य धनु राशि में प्रवेश करेगा। परिणामस्वरूप रुई, कपास, सूत, तेल, सोना-चांदी में तेजी आएगी एवं दूसरे अन्न में मंदी आएगी।

20 दिसंबर से शुक्र के मूल नक्षत्र अर्थात धनु राशि में भ्रमण करने से गेहूं, जौ, चना, चांदी, सोना, तांबा एवं वस्त्रों में तेजी आएगी।

रुई, सूत, कपास के भाव में तेजी-मंदी रहेगी। 23 दिसंबर से बुध मार्गी होने से रुई, चांदी में घटा-बढ़ी होकर तेजी आएगी। रेशम, तेल, अलसी, मूंगफली, कपूर, चंदन, अगर आदि सुगं‍धित वस्तुओं में मंदी आएगी।

31 दिसंबर से शुक्र पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र में प्रवेश करेगा जिससे रुई तथा अनाज में मंदी आएगी एवं मंगल के विशाखा नक्षत्र में आने से वस्त्र एवं गेहूं में तेजी आएगी।

दिसंबर में अमेरिका, अफगानिस्तान, दक्षिण अफ्रीका में कष्ट व परेशानी रहेगी। युद्ध जैसी स्थिति बनेगी। चीन, रूस, ईरान, इराक, कुवैत एवं पाकिस्तान में आंतरिक झगड़े, अशांति व आतंकी हमले जैसी घटनाएं हो सकती हैं तथा भारत में सुख-शांति रहेगी।
इस माह विश्व में महिलाओं की स्थिति में सुधार होगा। विज्ञान के क्षेत्र में उन्नति होगी। लाल वस्तु के भावों में तेजी रहेगी। चावल, शकर, चांदी, चंदन के भाव में उतार-चढ़ाव रहेगा। गेहूं, उड़द व तुअर के भाव में कमी आएगी। तेल, घी, कपास के भाव सामान्य रहेंगे।

विश्व में आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। राजनीतिक पार्टी में बदलाव आएगा। भारत में सरकार और विपक्ष में तालमेल नहीं बैठेगा व सरकार चलाने में तकलीफ आएगी।
पहाड़ी इलाकों में ठंड बढ़ेगी, शीतलहर का प्रकोप रहेगा व मैदानी भागों में सुबह व रात को तापमान में कमी रहेगी व दोपहर में तापमान सामान्य रहेगा। पंजाब, हरियाणा, कश्मीर, उत्तराखंड, राजस्थान, उत्तरप्रदेश व दिल्ली में शीतलहर तेज रहेगी। मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, गुजरात, आंध्र, केरल व चेन्नई में कहीं तापमान कम व कहीं ज्यादा रहेगा।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

राशिफल

क्या अमरनाथ गुफा में शिवलिंग के साथ ही बर्फ से निर्मित होते ...

क्या अमरनाथ गुफा में शिवलिंग के साथ ही बर्फ से निर्मित होते हैं पार्वती और गणेश?
अमरनाथ गुफा में शिवलिंग का निर्मित होना समझ में आता है, लेकिन इस पवित्र गुफा में एक गणेश ...

इन पौराणिक कथाओं से जानिए कि क्यों प्रिय है शिव को श्रावण ...

इन पौराणिक कथाओं से जानिए कि क्यों प्रिय है शिव को श्रावण मास,अभिषेक और बेलपत्र
पौराणिक कथा है कि जब सनत कुमारों ने महादेव से उन्हें श्रावण महीना प्रिय होने का कारण पूछा ...

कौन है जापानी लकी कैट, क्यों करती है यह हमारी मदद... जानें ...

कौन है जापानी लकी कैट, क्यों करती है यह हमारी मदद... जानें पूरी कहानी
लकी कैट जापान से आई है। घर में इस बिल्ली की प्रतिमा रखने मात्र से ही व्यक्ति की सारी ...

श्रावण मास में शिव-पूजा से पहले पढ़ें यह नियम, वरना नहीं ...

श्रावण मास में शिव-पूजा से पहले पढ़ें यह नियम, वरना नहीं मिलेगा पूरा फल, मंत्र की गल‍ती कर सकती है बर्बाद
श्रावण भगवान शिव का प्रिय महीना है, इन दिनों चारों ओर से मंत्र जाप की ध्वनि सुनाई देगी, ...

ज्योतिष सच या झूठ, जानिए रहस्य

ज्योतिष सच या झूठ, जानिए रहस्य
गीता में लिखा गया है कि ये संसार उल्टा पेड़ है। इसकी जड़ें ऊपर और शाखाएं नीचे हैं। यदि कुछ ...

भोलेनाथ को क्यों प्रिय है भस्म, जानेंगे तो श्रद्धा से भावुक ...

भोलेनाथ को क्यों प्रिय है भस्म, जानेंगे तो श्रद्धा से भावुक हो जाएंगे, साथ में पढ़ें महाकाल की भस्मार्ती का राज
आखिर भगवान भोलेनाथ को विचित्र सामग्री ही प्रिय क्यों है। बहुत कम लोग जानते हैं कि उनके ...

श्रावण में 40 दिन तक शिव जी को घी चढ़ाने से मिलेगा यह ...

श्रावण में 40 दिन तक शिव जी को घी चढ़ाने से मिलेगा यह आश्चर्यजनक आशीर्वाद, पढ़ें 12 राशि मंत्र भी...
श्रावण मास में भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए अपनी राशि अनुसार करें उनकी मंत्र आराधना। ...

आप नहीं जानते होंगे नंदी कैसे बने भगवान शिव के गण?

आप नहीं जानते होंगे नंदी कैसे बने भगवान शिव के गण?
शिव की घोर तपस्या के बाद शिलाद ऋषि ने नंदी को पुत्र रूप में पाया था। शिलाद ऋषि ने अपने ...

यह हैं वे 8 सुंदर सुगंधित फूल और पत्ती जिनसे होते हैं ...

यह हैं वे 8 सुंदर सुगंधित फूल और पत्ती जिनसे होते हैं भोलेनाथ प्रसन्न
श्रावण मास कहें या सावन मास इस पवित्र महीने में भगवान भोलेशंकर की कई प्रकार से आराधना ...

अमरनाथ गुफा में प्रवेश से पहले किन्हें त्याग दिया था शिवजी ...

अमरनाथ गुफा में प्रवेश से पहले किन्हें त्याग दिया था शिवजी ने, आप भी जानिए
अमरनाथ गुफा की ओर जाते हुए शिव सर्वप्रथम पहलगाम पहुंचे, जहां उन्होंने अपने नंदी (बैल) का ...