नवाज शरीफ ने देखी 'जी' के नए चैनल 'जिंदगी' की झलक

PR


23 जून को शुरू हो रहा 'ज़िन्दगी' भारत के दर्शकों को सीमा पार से चुनी गई कहानियां दिखाएगा।
इसकी शुरुआत पाकिस्तान की कहानियों से होंगी जिसमें सभी की भावनाएं शामिल होंगी और इसमें दुनिया भर के अवॉर्ड विजेता उपान्यसकारों और साहित्यिक क्षेत्र के दिग्गजों द्वारा लिखे गए प्रसिद्ध उपन्यासों और पुस्तकों पर आधारित विभिन्न शोज़ चैनल पर दिखाए जाएंगे।

WD|

वीज़ा इंसानों को लगता है,कहानियों को नहीं...

खुशी, गम, आंसू और मुस्कान आज भी पासपोर्ट की मुहर से आज़ाद हैं...

चलिए जी के देखें वो ज़िंदगी जो सरहद के दोनों तरफ आबाद है

ये विचार है दुनिया के 170 देशों में 70 करोड से ज्यादा दर्शकों के साथ विश्व का अग्रणी टेलीविज़न नेटवर्क ज़ी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइज़ेस लिमिटेड के चेयरमैन सुभाष चन्द्रा के। वे अब एक नया चैनल 'ज़िन्दगी' लांच करने जा रहे हैं। इसी सिलसिले में उन्होंने के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ से मुलाकात की। इस दौरान श्री शरीफ को चैनल की एक झलक भी दिखाई गई। 'ज़िन्दगी' का लांच कई मायनों में खास है क्योंकि यह चैनल सिर्फ एक मनोरंजन चैनल ही नहीं है बल्कि यह भारतीयों को सीमा पार रह रहे लोगों की ज़िन्दगियों से भी जोडेगा। चैनल के लांच के साथ ही ज़ी की 'वसुधैव कुटुम्बकम' की कॉरपोरेट विचारधारा और मज़बूत हुई है। इस चैनल का उद्देश्य अपनी चुनिन्दा सामग्री के ज़रिये मानवीय मूल्यों का प्रसारण करना है।
हिन्दी मनोरंजन चैनलों में 'ज़िन्दगी' अपनी श्रेणी का पहला चैनल है और ज़ी की ओर से अपने दर्शकों के लिए किया गया एक और अनूठा प्रयास है। यह मनोरंजन का एक नया मॉडल बनाने में मील का पत्थर साबित होगा।


और भी पढ़ें :