Widgets Magazine Widgets Magazine
Widgets Magazine
Widgets Magazine

वृक्षों का वास रहने दे!

पर्यावरण दिवस

ND|
अज़हर हाशमी
में वृक्षों का वास रहने दे!
झरनों में साँस रहने दे!

होते हैं वस्त्र के
छीन मत ये रहने दे!

वृक्ष पर घोंसला है चिडि़या का
तोड़ मत ये निवास रहने दे!

पेड़-पौधे चिराग हैं वन के
वन में बाक़ी उजास रहने दे!

वन विलक्षण विधा है की
इस अमानत को खास रहने दे!
Widgets Magazine
Widgets Magazine
Widgets Magazine
Widgets Magazine Widgets Magazine
Widgets Magazine