एक ग्लास दूध, दिमाग को रखे चुस्त

ब्रेन पावर के लिए एक ग्लास दूध काफी है

WD|
ND
इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कितनी उम्र के हैं। यदि आप अपने दिमाग को चुस्त-दुरुस्त बनाना चाहते हैं तो रोजाना एक ग्लास दूध पीना शुरू कर दीजिए। ऐसा करने से दिमागी क्षमता तेज होगी। एक ताजा अध्ययन में कहा गया है कि दूध न सिर्फ पोषक तत्वों से भरपूर रहता है बल्कि इससे ब्रेन पावर पर सकारात्मक असर पड़ता है और मानसिक क्षमता तेज होती है।

अध्ययन के मुताबिक डेयरी उद्योगों में दूध में मिलाए जाने वाला अन्य पोषक तत्व जैसे कि मैगनेशियम आदि से याददाश्त क्षमता मजबूत होती है। यह दिल की बीमारी और ब्लडप्रेशर से भी लोगों को बचाता है। यह ठीक तरह से काम करने के लिए दिमाग की क्षमता को बरकरार रखता है।

ND
यूनिवर्सिटी ऑफ मायने के शोधकर्ताओं ने पाया है कि जो वयस्क अधिक दूध पीते हैं उनकी स्मरण शक्ति उन लोगों की तुलना में काफी बेहतर होती है, जो कम दूध पीते हैं। दूध का अधिक सेवन करने वाले लोग उन लोगों की तुलना में पांच गुना अधिक सक्रिय और स्मरण शक्ति के लिहाज से बेहतर होते हैं, जो कम दूध पीते हैं।
इंटरनेशनल डेयरी जर्नल की रिपोर्ट के मुताबिक यूनिवर्सिटी ऑफ मायने में किए गए एक शोध से यह बात साबित हो चुकी है कि जो लोग रोजाना कम से कम एक ग्लास दूध पीते हैं, वे उन लोगों की तुलना में हमेशा मानसिक और बौद्धिक तौर पर बेहतर स्थिति में होते हैं, जो दूध का सेवन नहीं करते।


और भी पढ़ें :