गुणों की खान गाजर

WD|
सर्दियों के दिनों में सेहत को ध्यान में रखते हुए गाजर के सेवन से फायदे ही फायदे हैं। गाजर का जूस पीने या कच्ची गाजर खाने से कब्ज की परेशानी खत्म हो जाती है। इससे आँखों की रोशनी बढ़ती है।

सर्दियों में इसे खाने का अपना ही मजा होता है। इन दिनों में तो यह आपको बाजार में कम दाम में मिल रही है। इसे खाने या इसके जूस पीने से न केवल आप खुद को स्वस्थ रख पाएँगी, बल्कि इससे आपके चेहरे पर चमक भी आती है।

इसके मीठेपन से आपको कैलोरी की चिंता करने की भी जरूरत नहीं है, क्योंकि इसमें बहुत कम कैलोरी होती है। इसलिए डायबिटीज के मरीज भी दिन में एक बार गाजर का जूस पी सकते हैं, जबकि ऐसे मरीजों को किसी भी अन्य फल का जूस लेने की मनाही होती है। गाजर के जूस में बहुत सारे मिनरल और विटामिंस होते हैं, लेकिन मुख्य रूप से इसमें विटामिन-ए की अधिक मात्रा होती है, इसलिए इसे त्वचा व आँखों के लिए वरदान माना गया है।
क्या आप जानते हैं कि एक स्वस्थ व्यक्ति को सर्दियों में सुबह-शाम दो गिलास गाजर का रस या दो गाजर का सेवन करना चाहिए। यदि समय न हो तो जब भी वक्त मिले, इसे ऐसे ही खा लें। आप चाहें तो ऑफिस जाते हुए इसे अपने साथ भी रख सकती हैं और लंच में इसका इस्तेमाल सलाद के तौर पर कर सकती हैं।

गाजर खाने से भरपूर मात्रा में फाइबर भी मिलता है। इस रूप में यह जूस से बेहतर साबित होती है। यदि गाजर का जूस पी रहे हैं तो इसमें टमाटर या अदरक मिला लें। सर्दियों में अदरक आपको खाँसी-जुकाम से बचाकर रखेगा। जब भी जूस पीने का मन हो तो इसे ताजा ही बनाकर पिएँ। जूस को फ्रिज में स्टोर करके बाद में पीने के लिए बिल्कुल न रखें। इसके अलावा गाजर का हलवा, गाजर की करी और इसका अचार भी इस मौसम में खासतौर से बनाया जाता है। तो देर किस बात की, क्यों न इस मौसम में खाने-पीने का मजा गाजर के साथ लिया जाए। (स्मिता बोस)


और भी पढ़ें :