शेयर बाजार में राहत की आस नहीं

कमल शर्मा|
देश में मानसून का पहला राउंड बेहतर रहने के बावजूद अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर क्रूड के अभी भी 134 डॉलर प्रति बैरल पर टिके होने से शेयर बाजार का मूड ठीक नहीं है।
क्रूड के दाम जब तक 100 डॉलर प्रति बैरल से नीचे नहीं आते दुनिया भर की अर्थव्‍यवस्‍था की हालत खासकर बढ़ती महँगाई दर पर लगाम नहीं लगेगी, जिससे शेयर बाजारों में बड़े सुधार की आशा भी नहीं रखी जाना चाहिए। पिछले सप्‍ताह भी हमने कहा था कि शेयर बाजार में बड़ी रिकवरी के मौके कम हैं और अभी यही हालत है।

गोल्‍डमैन सेश के बाद मोर्गन स्‍टेनली ने भी 4 जुलाई तक क्रूड के दाम निकट भविष्‍य में 150 डॉलर प्रति बैरल तक पहुँचने की भविष्‍यवाणी की है। इस भविष्‍यवाणी के बाद क्रूड के दाम 15 से 17 डॉलर बढ़े हैं और ये घटने का नाम नहीं ले रहे।
अंतरराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष ने भी क्रूड के दाम ऊँचे रहने के साथ भारत सहित अनेक विकासशील देशों की इसमें जोरदार माँग बने रहने की बात कही है। इक्विटी विशेषज्ञों की राय में क्रूड के दाम 120 डॉलर प्रति बैरल से नीचे आने पर ही शेयर बाजारों में सुधार के संकेत दिखेंगे।

इस बीच, भारतीय रिजर्व बैंक ने रेपो रेट जरुर बढ़ा दी है, लेकिन बढ़ती महँगाई दर को थामने के लिए यदि ब्‍याज दर में किसी भी तरह की बढ़ोतरी होती है तो कार्पोरेट जगत के विस्‍तार और लाभ पर विपरीत असर पड़ेगा।
बाजार के सेंटीमेंट के लिए अभी ब्‍याज दर बढ़ाने का जो फैसला नहीं किया गया, वह अच्‍छा है। अमेरिकी शेयर बाजार शुक्रवार को बढ़कर बंद हुए हैं, जिससे यह उम्‍मीद तो की जा सकती है नए सप्‍ताह की शुरुआत बुरी नहीं होगी।

अनाम सिक्‍युरिटीज ने अपने ग्राहकों को भेजे पत्र में कहा है कि नीति विषयक संकेत निराशाजनक हैं। सरकार बढ़ती महँगाई को रोकने के लिए कड़े कदम उठाएगी। क्रूड के बढ़ते दाम के अलावा नरम पड़ रहा रुपया, चालू खाते में बढ़ रहा घाटा और ब्‍याज दरों में बढ़ोतरी से फंडामेंटल कमजोर पड़ रहे हैं।
बॉम्‍बे स्‍टॉक एक्‍सचेंज यानी बीएसई सेंसेक्‍स 16 जून से शुरू हो रहे सप्‍ताह में ऊपर में 15786 और नीचे में 14486 अंक के बीच रहेगा, जबकि नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज यानी एनएसई का निफ्टी 4686 से 4286 अंक के बीच रहने की संभावना है।

तकनीकी विश्‍लेषक हितेंद्र वासुदेव का कहना है कि सप्‍ताह के दौरान रेसीसटेंस 15337-15572 अंक रहेगा। बीएसई सेंसेक्‍स बढ़कर 15572 अंक के ऊपर बंद होता है तो यह 17735 अंक की पिछली ऊंचाई की ओर बढ़ेगा, लेकिन यह गिरकर 14600 अंक के नीचे बंद होता है तो यह 13779-13345-12316 अंक तक जा सकता है। इसकी सपोर्ट रेंज 14700-14600-13779-13345 और 12671-12316 अंक है।
इस सप्‍ताह निवेशक बीजीआर एनर्जी सिस्‍टम्‍स, चंबल फर्टिलाइर्ज्‍स, प्राज इंडस्‍ट्रीज, सिकॉल लॉजिस्टिक्‍स, पावर ग्रिड, ईआईएच, बालमेर लारी होटल लीला वेंचर, नाहर स्पिन, पेट्रोनेट एलएनजी, लॉयड इलेक्ट्रिक्‍स और वेल्‍सपन गुजरात पर ध्‍यान दे सकते हैं।

निवेशकों को इस समय हर बढ़त पर मुनाफावसूली की नीति अपनाना चाहिए। जो निवेशक शार्ट टर्म के सौदे करते हैं, उनके लिए भी बेहतर होगा कि वे हर बढ़त को बाजार से निकलने के मौके के रुप में उपयोग करें।*यह लेखक की निजी राय है। किसी भी प्रकार की जोखिम की जवाबदारी वेबदुनिया की नहीं होगी।

बाजार में बनी रहेगी उठापटक


और भी पढ़ें :